धार्मिक साम्राज्य की तुलना में बहुधार्मिक लोकतांत्रिक राष्ट्र जनता के प्रति ज्यादा जवाबदेह

कलीमुल्ला खान  इन दिनों पाकिस्तान में एक नया इस्लामिक धार्मिक आन्दोलन चल रहा है। इस आन्दोलन को चलाने वाले तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान के नाम से पूरे

इस्लामिक जगत को उइगर मुसलमानों का दर्द क्यों नहीं दिखता?

गौतम चौधरी   चीन के सर्च इंजन बायडू पर उइगर मुसलमानों को बेचने का एक मामला सामने आया है। आधुनिक युग में ऑनलाइन मानव तस्करी का

क्या हजारा शिया मुसलमान नहीं जो उनके खिलाफ अभियान चला रहा है पाकिस्तानी तालिबान?

गौतम चौधरी  अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन की घोषणा के बाद अब यह तय हो गया है कि इस साल के 11 सितंबर तक अफगानिस्तान से

जंगलों को बचाना है तो वनवासियों को सौंपिए सुरक्षा की जिम्मेबारी

सरहुल पर विशेष गौतम चैधरी भारत में आदिवासियों की संख्या लगभग 10 करोड़ के आसपास है। अधिकतर आदिवासी आज भी जंगलों में रहते हैं लेकिन

आइए हम बताते हैं कैसे और क्यों करें बीजों का सामुदायिक भंडार

उमेश नजीर   खेती के लिए बीज का होना, पहली जरूरत है। अगर बीज नहीं होंगे, तो खेती का होना संभव नहीं है। इसलिए बीज के

वहीदुद्दीन खान के खानदान में नफरत के खानजादे 

हसन जमालपुरी  वहीद-उद-दीन खान को कौन नहीं जानता है। खान साहब महान भारतीय मुस्लिम चिंतक थे, जिन्होंने 200 से अधिक पुस्तकों की रचना की है।

सोशल मैसेंजर संचार माध्यमों के उपयोग पर सतर्कता जरूरी

रजनी राणाव्हाट्सएप ने हाल ही में उपयोगकर्ता के डेटा का प्रबंधन करने के तरीके में कुछ बदलाव किए हैं। इस बदलाव के तहत व्हाट्सएप, अगर

नये कृषि कानूनों को लेकर झारखंड में चुप्पी का आखिर क्यों है?

उमेश नज़ीर झारखंड सरकार के वित्तमंत्री के अनुसार राज्य की कुल आबादी का 75 प्रतिशत की जीविका का मुख्य स्रोत-खेती और उससे जुड़े पेशे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी की बांग्लादेश यात्रा से दक्षिण एशिया के विकास को मिलेगी गति

हसन जमालपुरी  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हालिया बांग्लादेश यात्रा से दक्षिण एशिया के विकास को गति मिलेगी। दरअसल, मोदी ‘मुजीब बोरशो’ यानी बांग्लादेश के राष्ट्रपिता

इंडोनेशियायी मुसलमानों से कट्टरपंथियों को सीख लेनी चाहिए

गौतम चौधरी वर्तमान दौर में दुनिया के लिए सबसे महत्वपूर्ण मुद्दों में से शांति और सद्भाव है क्योंकि हाल के दिनों में अधिकांश देशों ने

1 16 17 18
Translate »