‘उत्तर और दक्षिण’ की एकात्मता पर केंद्रित प्रज्ञा प्रवाह का समागम, दिल्ली में जुटेंगे कई राष्ट्रवादी चिंतक

नयी दिल्ली/ आगामी 12 दिसंबर को दिल्ली में राष्ट्रवादी विचारकों का एक महत्वपूर्ण सम्मेलन होने वाला है। इसे ‘एकात्मक मानववादी समागम’ कहा जा सकता है।

बेहद महत्वपूर्ण है अरशद मदनी साहब का बयान, इसे राष्ट्रवादी मूल्यों के साथ जोड़ कर देखें

गौतम चौधरी  अमेरिकी नेतृत्व वाले गठबंधन बलों के खिलाफ बीस साल की लड़ाई के बाद तालिबान द्वारा सत्ता पर कब्जा करना सामान्य धारणा से परे

Translate »