सयुक्त किसान मोर्चा का भारत बंद, राजधानी रांची में छिटफुट असर

सयुक्त किसान मोर्चा का भारत बंद, राजधानी रांची में छिटफुट असर

रांची/ कृषि विरोधी 3 कानून, मजदूर विरोधी 4 लेबर कोड और मोदी सरकार की राष्ट्र विरोधी नीतियों के खिलाफ संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर आज का झारखंड में भारत बंद छिटफुट असर दिखा। राजधानी रांची में त्योहारों और कोरोना के प्रसार के चलते 12 घंटे के बंद की अवधि को 6 घंटे कर दिया गया था।

दिन के 11 बजे वामदलों और ट्रेड यूनियन के कार्यकर्ताओं ने बंद के समर्थन में अल्बर्ट एक्का चौक पर जुलूस निकाल कर 12:00 बजे तक जाम किया। बंद को आम जनता का भरी समर्थन का वामदलों ना दावा किया है। वामदलों ने बंद को सफल बनाने के लिए झारखंड की जनता को बधाई दी।

इस जुलूस मैं मुख्य रूप से माले के राज्य सचिव कॉमरेड जनार्दन प्रसाद, माकपा की सचिव मंडल सदस्य प्रकाश विप्लव, सीपीआई के जिला सचिव अजय सिंह, माकपा की सुखनाथ लोहरा, माले के भूलेश्वर केवट, मासस के सुशांतो, राजद के वरीय उपाध्यक्ष राजेश यादव, एस यू सी आई के जूलियस, किसान नेता सुकरा उरांव, बंधन उरांव, टीपू उरांव, छुम्मु उरांव, भाकपा के श्यामल, लक्ष्मी, साहेब सिकंदर, मेहुल मृगेंद्र, अनिकेत चौधरी, विक्रांत, ओमबाल शिव, रजनी कुमारी, विधया कुमारी, माकपा के प्रफुल्ल लिंडा, बीना लिंडा, रेनू प्रकाश, सी टू के अनिर्बान घोष, भाकपा माले के भीम सिंह, नौरीन, सोहेल, सोनिया देवी आदि सैकड़ों लोग शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »