लखीमपुर खीरी हिंसा : 18 अक्टूबर को रेल रोकेंगे किसान

लखीमपुर खीरी हिंसा : 18 अक्टूबर को रेल रोकेंगे किसान

नई दिल्ली/ लखीमपुर खीरी कांड को लेकर किसान और अधिक सख्त रवैया अपनाने जा रहे हैं। संयुक्त किसान मोर्चा ने लखीमपुर खीरी की घटना के विरोध में 18 अक्टूबर को ‘रेल रोको’ का आह्वान किया है।

इस आन्दोलन का नेतृत्व कर रहे किसान नेता योगेंद्र यादव ने कहा कि किसान बड़ा प्रदर्शन करने जा रहे हैं। लखीमपुर खीरी मामले में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे पर किसानों पर थार जीप चढ़ाने का आरोप है। इसमें पांच किसानों की मौत हो गई थी। इस दुर्घना में एक स्थानीय पत्रकार की भी मौत हुई थी। इससे यूपी सहित देश में सियासी उबाल आ गया।

संयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव ने कहा कि केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा को पद से हटाया जाए और गिरफ्तार किया जाए क्योंकि उन्होंने यह साजिश रची है। 15 अक्टूबर को दशहरा पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह का पुतला जलाएंगे। इसके बाद 18 अक्टूबर को ट्रेन रोकेंगे।

किसान नेता जोगिंदर सिंह उगराहां ने कहा कि हमारी मांग है कि केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा और उनके बेटे आशीष को गिरफ्तार किया जाए। किसान नेता दर्शन पाल ने कहा कि लखीमपुर खीरी घटना पहले से रची गई साजिश का हिस्सा है। उन्होंने (हमलावरों) ने किसानों को आतंकित करने की कोशिश की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »