कोविड-19 की जमीनी हकीकत बताने वाली पत्रकार पहुंची मौत के करीब, चीनी सरकार कर रही प्रताड़ित

कोविड-19 की जमीनी हकीकत बताने वाली पत्रकार पहुंची मौत के करीब, चीनी सरकार कर रही प्रताड़ित

नई दिल्ली/ कोविड 19 महामारी पर रिपोर्ट प्रकाशित करने वाली चीनी पत्रकार की हालत चिंताजनक बताई जा रही है। पश्चिमी समाचार माध्यमों की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि चीनी युवा पत्रकार झांग जहान का भूख हड़ताल के कारण हालत नाजुक दौर में पहुंच गयी है और कभी भी मौत हो सकती है।

बता दें कि झांग जहान को वुहान में कोविड-19 की शुरुआती कवरेज के लिए गयी थी और उसने अपनी रिपोर्ट सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था। उसके बाद वह गायब हो गयी। कुछ दिनों के बाद चीनी प्रशासन ने बताया कि हजान उनकी हिरासत में है। कोविड-19 पर संवेदनशील रिपोर्ट सार्वजनिक करने के लिए चीन की सरकार ने झांग को चार साल से जेल में बंद कर रखी है।

झांग के परिवार वालों ने चेतावनी दी है कि झांग भूख हड़ताल के कारण मौत के करीब पहुंच गयी है और सर्दियों में वह जीवित नहीं रह पाएगी। खबरों में कहा गया है कि कोविड-19 महामारी के शुरुआती दिनों में उसकी रिपोर्टिंग के लिए उसे जेल में बंद कर दिया गया था। चीनी पत्रकार चीनी मूल की हैं और वह पेशे से वकील है।

38 वर्षीय पूर्व वकील झांग जहान को दिसंबर में चार साल की जेल की सजा सुनाई गई थी। झांग जमीनी हकीकत जानने और उससे दुनिया को रूवरू कराने के लिए वुहान की यात्रा थी थी। उन्होंने स्वतंत्र पत्रकार के तौर पर कोविड-19 रोगियों के परिवार वालों से मुलाकात की और सरकार के द्वारा खड़ी गयी गयी परेशानियों से अवगत हुई।

इसके बाद उन्होंने एक रिपोर्ट तैयार की और उसे सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया। इसके बाद झांग चीनी साम्यवादी अधिनायकवादी सरकार के आंख पर चढ़ गयी। पहले तो खबर आयी वह गायब हो गयी है लेकिन इस बीच चीन प्रशासन ने एक विज्ञप्ति के माध्यम से बताया कि झांग को हिरासत में ले लिया गया है। उस पर केस चली और उसे चार साल की सजा सुनाई गयी।

इधर चीनी सरकार ने दावा किया कि झांग की रिपोर्ट झूठी थी। इसी झूठ के कारण उसे हिरासत में लिया गया और उसके खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की गयी।

इस मामले में एमनेस्टी इंटरनेशनल ने कहा, पिछले जून में हिरासत में लिए जाने के दौरान जहान ने विरोध में भूख हड़ताल शुरू की और इतनी बीमार हो गए कि उन्हें पेशी के दौरान व्हीलचेयर पर अदालत में पेश होना पड़ता था।

इधर ब्रितानी मीडिया ने बताया कि उसके वकील ने दावा किया कि कई बार उसे जबरन फीडिंग ट्यूब के जरिए जबरन खाना खिलाया गया है। पिछले हफ्ते उनके भाई झांग जू ने ट्विटर पर लिखा था कि उनकी बहन, जो 5 फुट 8 लंबी है, अब उनका वजन 88 पाउंड के आसपास रह गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »