महंगाई के लिए PM को जिम्मेदार ठहराया, CPI ने पुतला फूंका

महंगाई के लिए PM को जिम्मेदार ठहराया, CPI ने पुतला फूंका

रांची/ बढ़ती महंगाई के खिलाफ भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने आज अल्बर्ट एक्का चैक पर प्रधानमंत्री का पुतला फूंका। बृहस्पतिवार को रांची के अल्बर्ट एक्का चैक पर बढ़ती हुई महंगाई के विरोध में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र दास मोदी का पुतला फूंक कर लोगों ने विरोध जताया।

पुतला दहन कार्यक्रम का नेतृत्व भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी झारखंड राज्य के सहायक सचिव महेंद्र पाठक व रांची जिला सचिव अजय कुमार सिंह ने किया। पुतला दहन कार्यक्रम से पहले एक नुक्कड़ सभा को संबोधित करते हुए पाठक ने कहा कि जब से नरेंद्र मोदी की सरकार देश में आई है, लगातार महंगाई बढ़ा है।

उन्होंने कहा कि देश के बड़े बड़े पूंजीपतियों को लाभ दिलाने और जन विरोधी नीतियों के कारण लगातार देश में महंगाई बढ़ रही है। पेट्रोलियम एवं डीजल की कीमतों में बेतहाशा बढ़ोतरी हो रही है। इसी कारण आवश्यक वस्तुओं के दाम आसमान छू रहे है। कोरोना महामारी में लोगों का जीना दुर्भर हो चुका है। रोजगार समाप्त हो चुका है और देश का विकास अवरुद्ध हो चुका है।

पाठक ने कहा कि ऐसी परिस्थिति में लगातार देश की आम जनता पर महंगाई थोपकर केंद्र सरकार ने अपना जनविरोधी चेहरा उजागर कर दिया है। इस मौके पर रांची जिला सचिव अजय कुमार सिंह ने कहा केंद्र की मोदी सरकार डीजल पेट्रोल रेट के दामों में 50 प्रतिशत से अधिक टैक्स बसूल रही है, जिससे रोजमरा की जरूरत के सामानों के दाम आसमान छूने लगे हैं।

का. अजय ने कहा कि जब कांग्रेस के शासन में ₹65 डीजल, पेट्रोल के दाम में बढ़ोतरी होती थी तब, भारतीय जनता पार्टी और उनके बड़े नेता सड़कों पर उतरकर, नचनिया, भजनिया बनकर महंगाई का लगातार विरोध करते थे। अब जब कई राज्यो में पेट्रोलियम ₹100 के पार हो गए तो, ये लोग किस कोने में दुबके हुए हैं।

अजय ने कहा कि आज पूरे राज्य में केंद्र के मोदी सरकार के विरोध में राज्य के सभी जिलों के प्रखंडों एवं खेत खलिहान और गांव में पुतला जलाकर केंद्र सरकार से महंगाई पर रोक लगाने की मांग की गई।

पुतला दहन कार्यक्रम में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी झारखंड राज्य के सहायक सचिव महेंद्र पाठक, जिला सचिव अजय कुमार सिंह, किशोरी प्रसाद गुप्ता, वीरेंद्र विश्वकर्मा मनोज ठाकुर, श्यामल चक्रवर्ती, सरिता देवी, अंकित कुमार आदि कई लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »