कोरोना टीके को पेटेंट मुक्त कराने के लिए स्वदेशी जागरण मंच ने छेड़ा अभियान

कोरोना टीके को पेटेंट मुक्त कराने के लिए स्वदेशी जागरण मंच ने छेड़ा अभियान

रांची/ कोरोना टीके को पेटेंटमुक्त कराने के लिए स्वदेशी जागरण मंच ने एक अभियान प्रारंभ किया है। स्वदेशी जानगरण मंच की स्थानीय इकाई ने बताया कि इजरायल, अमेरिका, इंग्लैंड आदि जिन 6 देशों की वयस्क जनसंख्या का टीकाकरण हो गया है वहां कोरोना संकट लगभग समाप्त हो गया है। इसलिए भारत सहित विश्व की समग्र वयस्क जनसंख्या (लगभग 600 करोड़) का तत्काल टीकाकरण आवश्यक है। इसके लिए स्वदेशी जागरण मंच ने कोविड के टीकों व औषधियों को पेटेंट मुक्त कर इनकी टेक्नालॉजी इनके उत्पादन में सक्षम सभी दवा उत्पादकों को सुलभ कराने की मांग करते हुए सघन जन जागरण अभियान छेड़ा है।

मंच ने एक प्रेस बयान जारी कर कहा कि इसके अन्तर्गत देश भर में व देश के बाहर भी टीकों व औषधियों की सर्व सुलभता हेतु ‘‘युनिवर्सल एक्सेस टु वेक्सीन्स एण्ड मेडिसिन्स‘‘ अर्थात ‘‘युवम‘‘ के नाम से यह अभियान चल रहा है। इसमें आनलाईन हस्ताक्षर अभियान सहित वेबिनार, गोष्ठियों, प्रदर्शन, सम्पर्क प्रचार की प्रक्रिया चल रही है।

भारत में भी कम से कम 70 प्रतिशत जनसंख्या के टीकाकरण के लिए लगभग 200 करोड़ खुराक की आवश्यकता है। इस बड़े पैमाने पर उत्पादन के लिए इनकी प्रौद्योगिकी के हस्तांतरण की सुविधा और इनके पेटेंट और व्यापार रहस्य सहित बौद्धिक संपदा अधिकार सम्बन्धी बाधाओं को दूर करने के लिए अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर उपाय करने होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »