महिलाएं ऐसे भी रख सकती हैं अपना सौंदर्य बरकरार

महिलाएं ऐसे भी रख सकती हैं अपना सौंदर्य बरकरार

भाषणा गुप्ता

सौंदर्य को बनाए रखने के लिए जहां सही जानकारी आवश्यक है, वहीं इसके लिए थोड़ी मेहनत की भी जरूरत होती है। ऐसा नहीं कि सिर्फ प्रौढ़ महिलाओं को ही सौंदर्य की देखभाल की जरूरत होती है बल्कि किशोरियों व युवतियों के लिए भी सौंदर्य के प्रति सतर्क रहना जरूरी होता है। वैसे किशोरावस्था में त्वचा अधिक चमकदार व खूबसूरत होती है परंतु उम्र की इस अवस्था में भी शरीर में हारमोनल बदलाव आते रहते हैं। ऐसी स्थिति में शरीर की त्वचा बदलाव की प्रक्रिया से गुजरती है अतएव त्वचा अधिक देखभाल चाहती है।

सौंदर्य विशेषज्ञों के अनुसार यदि आपकी त्वचा स्वस्थ है तो आपके लिए चेहरे को 2-3 बार धोना ही काफी है परंतु किशोरावस्था में 6-7 बार चेहरे को साफ करना अति आवश्यक होता है। इसके लिए एस्ट्रिजेंट लोशन का प्रयोग सही है। साथ ही स्किन टॉनिक का प्रयोग भी किया जा सकता है। रोमछिद्र खोलने हेतु फेस स्क्रब का प्रयोग लाभदायक है। किशोरियों को चाहिए कि वे अपने सौंदर्य को बरकरार रखने के लिए पानी अधिक से अधिक पिएं। अपने भोजन में रेशेयुक्त सब्जियों व फलों को अवश्य शामिल करें। मेकअप कम से कम करें क्योंकि इस उम्र में अधिक मेकअप आपकी कोमल व नाजुक त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है। होंठों की कुदरती चमक बरकरार रखने के लिए लिपस्टिक का प्रयोग यदा-कदा ही करें। मेकअप में आप हल्का सा आई लाइनर लगा सकती हैं, साथ ही मस्कारा का प्रयोग भी कर सकती हैं। बालों को कलर न कराएं। युवतियां मेकअप कर सकती हैं पर ध्यान रहे कि मेकअप प्रसाधन उत्तम क्वालिटी के हों। हल्का मेकअप ही इस उम्र में उपयुक्त रहता है। रात को सोते समय मेकअप उतारकर ही सोएं। वसायुक्त भोजन कम से कम खाएं।

तीस साल के बाद चेहरे पर झाइयां व झुर्रियां पड़ने का भय बना रहता है। इस उम्र में अगर आप चिंताकरती हैं तो चिंता की लकीरें आपके चेहरे पर बहुत बुरा प्रभाव डालती हैं। इस अवस्था में त्वचा की विशेष देखभाल की आवश्यकता होती है। चेहरे को नमी प्रदान करने के लिए नियमित रूप से माश्चराइजर का प्रयोग करें। महीने में एक बार फेशियल अवश्य कराएं व माह में दो बार मेनिक्योर व पेडिक्योर भी करवाएं। इस उम्र में हल्का व सौम्य मेकअप ही उपयुक्त रहता है। चालीस वर्ष की अवस्था में चेहरे पर झुर्रियांे व झाइयों को स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है। इस उम्र में त्वचा पर माश्चराइजर का प्रयोग अवश्य करें। लिपस्टिक के मैरून, मजेन्टा जैसे शोख शेड लगाने से बचें। लाइट पिंकिश ब्राउनिश शेड्स का प्रयोग करें।

इन सबके अलावा कुछ उपाय, जो सभी उम्र की महिलाएं अपना सकती हैं, को ध्यान में रखें। ये आपके सौंदर्य को बनाए रखने के लिए लाभदायक सिद्ध होंगे। उबले हुए आलू को पीसकर चेहरे पर नियमित रूप से लगाएं व 20 मिनट बाद चेहरे को ताजे पानी से धो लें। इससे चेहरे की झाइयां व झुर्रियां समाप्त हो जाती हैं।

गाजर को उबालकर ठण्डा करें व फिर मैश करके चेहरे पर व हाथों पर लगाएं व 10-15 मिनट बाद धो दें। इससे त्वचा में निखार आता है और कालापन दूर होता है। उ सन्तरे के छिलकों को सुखाकर पीस लें। इसमें मलाई मिलाएं व इस पैक का चेहरे व हाथों पर लेप करें। लगभग 20 मिनट के बाद गुनगुने पानी से धो लें। इससे चेहरे पर निखार आएगा व त्वचा मुलायम बनेगी। दो टमाटरों के रस में एक नींबू का रस मिलाकर चेहरे पर लगाएं। थोड़ी देर बाद धो दें। इसके नियमित प्रयोग करने से चेहरे के दाग धब्बे मिट जाते हैं व चेहरा खिला-खिला नजर आता है।

मसूर की दाल और चावल को बराबर मात्रा में भिगोएं। कुछ देर बाद इन्हें पीसकर पेस्ट बना लें। इसमें थोड़ा-सा गुलाबजल मिलाकर चेहरे पर लगाएं। कुछ देर बाद चेहरा धो दें। इससे भी त्वचा पर कांति आएगी।

(उर्वशी)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »